ED Full Form In Hindi, ED क्या हैं सभी जानकारी हिन्दी में?

हेलो फ्रेंड आप सभी का स्वागत है आपके अपने ब्लॉग hytechsin.com में फ्रेंड में आप सभी को आज बताने वाला हूं ED इसका क्या कार्य होता है इसके क्या महत्व होता है है है इस का फुल फॉर्म क्या होता है इससे जुड़ी सभी जानकारी मैं आपको आपको आज के आर्टिकल में बताऊंगा

बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें यह नहीं पता कि ED  क्या होता है मैं आपको उसके फुल फॉर्म से लेकर के के से लेकर के के फॉर्म से लेकर के के फॉर्म से लेकर के के से लेकर के उसके महत्व तक की पूरी जानकारी दूंगा इसे जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए मेरे इस पोस्ट को लास्ट तक पढ़े।

भारत मे कुछ समय से ED का नाम समाचारपत्रों और टीवी चैनलों में प्रमुखता के साथ लिया जाता है। ED का नाम हाई प्रोफाइल केस में अधिकांश लिया जाता है या एजेंसी भारत में विदेशी संपत्ति मामला था संशोधन  ( Money Loandring ) आय से अधिक संपत्ति की जांच करती है आईडी भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के राजस्व के अधीन एक विशेष जांच विशेष जांच जांच एजेंसी है आज के समय में आपको प्रवर्तन निदेशालय क्या है इसका अधिकार और कार्य क्या होता है ई डी का फुल फॉर्म के बारे में फुल फॉर्म के बारे में के बारे में आप लोगों को बताऊंगा.

ED ( प्रवर्तन निदेशालय  ) क्या है?

प्रवर्तन निदेशालय क्या है भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के अंतर्गत एक जांच एजेंसी एजेंसी होती है उसका मुख्यालय नई दिल्ली में है उसकी स्थापना 1 मई 1956 में की गई थी ईडी में सभी उच्च अधिकारियों की नियुक्ति आईएसएस आईपीएस आईआरएस के अधिकारियों में की जाती है या एक गैर संवैधानिक निकाय है इसका क्या बिताने का अर्थ है कि इस संस्था का वर्णन संविधान में नहीं किया गया था इसका प्रसिद्ध  नाम ED  है।

प्रवर्तन निदेशालय भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के वित्त मंत्रालय मंत्रालय मंत्रालय कि अवनीश पीसीएस प्री बजाज एजेंसी है जिसका मुख्यालय नई दिल्ली में है इसके मुख्य पांच कार्यालय है मुंबई चेन्नई चंडीगढ़ चंडीगढ़ कोलकाता और दिल्ली है निदेशालय में क्षेत्रीय कार्यालय जैसे अहमदाबाद बेंगलुरु चंडीगढ़ चेन्नई कोच्चि लखनऊ मुंबई पटना और श्रीनगर है चीन के प्रमुख संयुक्त निदेशक है।

विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम 1999 फेमा अधिनियम 1- 6 20000 को प्रभावित हुआ था इसके अंतर्गत न्यायिक जांच प्रक्रिया के दौरान उल्लंघन सिद्ध होने की स्थिति में संबंधित शक्ति फॉर्म इकाई के इकाई के राशि के तीन  गुना तक की राशि का आर्थिक दंड लगाया जा सकता है

धनशोधक निवारण अधिनियम 2020  ( पीएमएल ) इस अधिनियम के अंर्तगत जांच की प्रकिया अन्य अधिनियम के अंर्तगत की तहत ही कि जाती है। जांच के दौरान उपरांत यह पाया जाता है कि संबंधित व्यक्ति इकाई में जो सम्पति बनाई है। वह पीएमएलए में अधिसूचित 28 कानूनी की 156 धाराओ में दण्डित अपराधी के रूप में अर्चित की गई है।

ED का फुल फॉर्म क्या है?

ED का फुल फॉर्म होता है Directorate of Enforcement ,या फिर Directorate General of Economic Enforcement, इसका हिंदी में अर्थ होता है प्रवर्तन निदेशालय के नाम से जाना जाता है।

ED के क्या अधिकार होता है?

प्रवर्तन निदेशालय विदेशी मुद्रा विनिमय अधिनियम 1973 के अंतर्गत कार्य करता था 1 जून 2000 को फेमा लागू कर दिया गया था इस अधिनियम को फेरा के नाम से जाना जाता था वर्तमान समय में वीडियो फेरा 1973 और 1999 के अंतर्गत कार्यवाही करता है।

ईडी क्या कार्य करता है?

ईडी फेरा 1999 के उल्लंघन से संबंधित सूचना को प्राप्त करता है यह सूचनाएं इसे केंद्र और राज्य सूचना अभिकरण शिकायतों आधी आधी से प्राप्त होता है

या फॉरेन हवाला एक्सचेंज रेकेटियरिंग निर्यात प्रकियाओ का पूरा न होना विदेशी विनियम का गैर प्रत्यावर्तन तथा फेरा 1999 के तहत उल्लंघन करने पर मामले की जांच और निणर्य लेता है।

न्यायिक निणर्य कार्यवाही के अंर्तगत दंड की वसूली करता है इसके लिए वह नीलामी इत्यादि प्रकिया का अनुपालन करता हैं।

ईडी पूर्ववर्ती फेरा 1973 के न्याय अभियोजन अपील न्यायनिर्णयन के मामलों का प्रबंध करता है।

ईडी पीएमएलए के अंर्तगत अपराधी के हस्ताक्षर के साथ साथ अपराध को प्रक्रियाओं की जब्ती कुर्ती के संबंध में संविदा कारी राज्य को या या पारस्परिक कानूनी सहायता की मांग करना तथा प्रदान करता है।

ईडी का महत्व क्या है?

इसके महत्व दोस्त है है दोस्त है है काफी मानी जाती है क्योंकि ईडी अधिकार के कारण हैं सरकार वित्त कानून का उस पर सौपता है देश में पूरी तरह कानूनी कार्रवाई और नियमों का पालन किया जाए।

ईडी देश-विदेश में होने होने में होने होने वाले धोखाधड़ी से बचाव करता है और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करता है यही कारण है कि भारत सरकार ने वित्त मंत्रालय और राजस्व विभाग के तहत प्रवर्तन निदेशालय को महत्वपूर्ण और सर्वोच्च स्थान दिया है।

निष्कर्ष
हेलो फ्रेंड मैंने यहां आपको ED( प्रवर्तन निदेशालय ) के विषय में जानकारी उपलब्ध कराया है यदि इस जानकारी से संबंधित अगर आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न हो तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते हैं।

एक देश में ईडी रिपोर्टर कवच की तरह कार्य करता है जो भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के अधीन आता है।

Post a Comment

0 Comments