ISI Full Form In Hindi, ISI क्या है सभी जानकारी हिंदी में?

ISI Mark क्या है? जानिये पूरी जानकारी।

हेलो फ्रेंड आप सभी का स्वागत है मेरे आज के आर्टिकल में  फ्रेंड आप सभी  जानना चाहते होंगे कि ISI Mark क्या है इसका फुल फॉर्म क्या होता है आय  दिन आप इन सब चीजों के बारे में सुनते होंगे आपके मन में कई प्रकार के सवाल भी आते होंगे कि आखिर यह ISI Mark  क्या है इस बात पर ध्यान दें कि जब भी आप मार्केट में सामान लेने जाते हैं चाहे वह घर का सामान हो या इलेक्ट्रॉनिक सामान हो जैसे - गैस चूल्हा या गैस रेगुलेटर बर्नर या फिर इस तरह के और भी सामान हो सकते हैं तो वहां आपको  ISI Mark देखने को मिलता है दुकानदार आपसे कहता है कि आप इस सामान को लीजिए इस पर  ISI Mark  लगा है अगर आपको यह नहीं पता होगा तो आप यही सोचेंगे कि शायद  ISI Mark वाला सामान बाकियों से अच्छा है तो फ्रेंड  मैं आपको आज इसी विषय के बारे में बताने वाला हूं जिससे आपको पता चल सके कि ISI Mark क्या है।

ISI का full form

I = Indian 
S= Standards
I = Institute
ISI Mark  क्या है हम आपको बता दें कि यह एक सर्टिफिकेट होता है जो किसी प्रोडक्ट के लिए कंपनी को मिलता है ISI का फुल फॉर्म होता है। Indian Standards Institute है इसका हिंदी अर्थ "भारतीय मानक संस्थान " होता है भारत में बहुत से ऐसे सरकारी मानक  संस्थान है जो इस प्रकार के प्रोडक्ट को सही तरीके से टेस्ट करते हैं।

अगर आप भी इस तरह के प्रोडक्ट बना रहे हैं और आप यह दिखाना चाहते हैं कि आपका प्रोडक्ट 100% सही है या फिर 100% क्वालिटी प्रोडक्ट है तो आपको इसे साबित करने के लिए भारतीय संस्थान में आवेदन करना होगा और फिर आपको इस प्रोडक्ट को सबमिट कर लेना है
भारतीय मानव संस्था में आप का प्रोडक्ट हर तरह के स्टैंडर्ड से होकर गुजरेगा आपके प्रोडक्ट का काफी बारीकी के साथ जांच किया जाएगा अगर आप का प्रोडक्ट भारतीय मानव संस्था के द्वारा पास हो जाता है तो आपको प्रोडक्ट के लिए ISI Mark  का सर्टिफिकेट दे दिया जाएगा। उसके बाद आप अपने प्रोडक्ट को बाजार में ISI Mark  के साथ भेज सकते हैं।

ऐसे ही बहुत सी कंपनियां करती हैं अपने बनाए गए प्रोडक्ट को जांच के लिए भारतीय मानव संस्था में भेज देती हैं वहां से उनके प्रोडक्ट का जांच हो जाता है तब उनको भारतीय मानव संस्था के तरफ से ISI Mark  का सर्टिफिकेट दे दिया जाता है और फिर वह कंपनियां अपने प्रोडक्ट को ISI Mark  सर्टिफिकेट प्रोडक्ट के साथ बाजार में बेचती है और उससे उनका बहुत लाभ होता है

आप सभी यह तो जान ही गए होंगे कि ISI Mark क्या है और यह किस तरह प्रोडक्ट को मिलता है जब भी आप बाजार में किसी प्रकार का प्रोडक्ट खरीदने जाए तो अगर आपको ISI Mark दिखे तो आप यह समझ जाए कि वह प्रोडक्ट 100%  सही है और वह भारतीय मानव संस्था के कई जांचों से होकर गुजरता है इसलिए आपको हमेशा ISI Mark  वाले ही प्रोडक्ट खरीदना चाहिए।

ISI Mark का इतिहास क्या हैं?

ISI Mark का स्थापना 1 जनवरी 1987 में हुआ था भारत में बिकने वाली प्रोडक्ट का एक प्रमाण पत्र है यह मार्क हमें यह बताता है कि उत्पादन को सरकार द्वारा भेजने की Permission Provede   की गई है।

नकली ISI Mark कैसे पता करें?

नकली ISI Mark अनिवार्य 7 अंकों का लाइसेंस संख्या नहीं है ISI चिन्ह के सिर्फ एक ISI नंबर होते हैं यह किसी विशेष प्रोडक्ट के लिए भारतीय मानक संस्था के संख्या को दर्शाता है

ISI किन किन product पर होता है?

ISI कुछ मुख्य product है जिन पर ये ISI Mark होते है।
◆ Tires
◆ Heater
◆ LPG Valves
◆ Portland Cement
◆ Electrical Product ( Electric Motors,       
     Wiring Cables )
◆ Kitchen Appliance

निष्कर्ष :-
हेलो फ्रेंड मैंने आपको ऊपर में ही बताया था कि आज का हमारा टॉपिक क्या है आप सभी जान ही गए होंगे कि ISI Mark  क्या है और ये किस तरह के प्रोडक्ट को मिलता है अगर आप जब भी बाजार में कोई प्रोडक्ट लेने जाते हैं तो ISI  Mark देख कर ही प्रोडक्ट को खरीदें क्योंकि वह प्रोडक्ट आपके लिए 100% क्वालिटी और सही होता है तो फ्रेंड आप सभी को  इसके बारे में जानकारी हो ही गयी होगी । और मैं उम्मीद करता हूं कि आप सभी यह समझ गए होंगे कि ISI  क्या है आप इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और इससे कोई भी जुड़ा सवाल हो तो  आप हमसे कमेंट करके  पूछ सकते है या सोशल मीडिया के जरिए मेरे साथ जुड़ सकते है।

Post a Comment

0 Comments