सरकार आईआईटी और एनआईटी में करेगी 50 फ़ीसदी सीटों में बढ़ोतरी जानिए क्या है ?मास्टर प्लान।

सरकार आईआईटी और एनआईटी में करेगी 50 फ़ीसदी  सीटों में बढ़ोतरी जानिए क्या है ?मास्टर प्लान।

हेलो फ्रेंड आप सभी का स्वागत है आपके अपने ब्लॉग hytechsin.com में फ्रेंड में आप सभी को एक नई खबर के बारे में बताने वाला हूं आज के इस पोस्ट में फ्रेंड आप सभी को शायद नहीं पता होगा लेकिन मैं आप सभी को बता दूं कि आईआईटी और एनआईटी में 50 फीसदी सीटों की बढ़ोतरी होगी यह सरकार का फैसला है फ्रेंड अगर इसके बारे में आप ज्यादा से ज्यादा जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो मेरे इस पोस्ट को ध्यान पूर्वक लास्ट तक पढ़े लास्ट तक पढ़े तभी आप अच्छी तरह से समझ पाएंगे।




सरकार आईआईटी और एनआईटी में एनआईटी में में 50 फ़ीसदी सीटों की बढ़ोतरी करेगी आप सभी को मैं बता दूं कि मानव संसाधन विकास मंत्री ( Human Resource Development Minister )   रमेश पोखरियाल निशांत  ( Ramesh Pokhriyal Nishank ) ने आईआईटी एनआईटी समेत शीर्ष शिक्षण संस्थानों में सीटें बढ़ाने को लेकर अहम बैठक की है ।

एचआरडी मिनिस्टर ने ली अहम बैठक।

इसके अनुसार साल 2024 तक इन संस्थानों की सीटों में 50 फ़ीसदी को बढ़ोतरी किया जाएगा जिसमें आईआई यानी इंस्टीट्यूट आफ एमिनेम एमिनेम की संख्या में बढ़ोतरी पर भी चर्चा हुई योजना के तहत विदेश की तर्ज पर अब देश में भी गुणवत्ता युक्त शिक्षा व रोजगार मुहैया कराने के मकसद से बाजार की मांग के आधार पर नए कोर्स जोड़े जाएंगे।

इंस्टिट्यूट ऑफ एमिनेम अब 30 के बजाय 50 होगी शुरुआत में इनकी संख्या 20 थी जिसमें 10 सरकारी और 10 निजी संस्थानों को शामिल किया गया था हालांकि 2018 में इनकी संख्या 30 कर दी गई इसके तहत अभी तक यूजीसी से 20 संस्थानों को आईआई का दर्जा मिल गया है।

नरेंद्र मोदी सरकार के चुनावी घोषणा पत्र में 2024 तक इन संस्थानों में 50% सीटें बढ़ाने की बात कही गई थी।

असल में 50 फ़ीसदी सीट बढ़ाने का फैसला इसलिए किया गया है ताकि देश के होनहार छात्रों को विदेश जाने से रोका जा सके 2019 में 7 लाख 50 हजार भारतीयों छात्रों ने उच्च शिक्षा के लिए विदेश में विश्वविद्यालय में एडमिशन लिया था अब यही वजह है कि स्नातक प्रोग्राम में सबसे अधिक सीटों में बढ़ोतरी मार्केट डिमांड और रोजगार देने वाले डिग्री प्रोग्राम में होगी ताकि छात्र भारत में रहकर ही उच्च शिक्षा की प्राप्ति कर सकें।

भारत में शिक्षा व्यवस्था को और बेहतर बनाने के लिए लगातार काम किया जा रहा है ऐसे विषयों और डिग्री प्रोग्राम के लिए भारतीय शिक्षण संस्थानों में भी वैसे ही सुविधा शुरू की जाएगी जिस सुविधा के लिए छात्र छात्राएं विदेश के विश्वविद्यालय में एडमिशन लेते हैं इसी कड़ी में आईआईटी , एनआईटी समेत अन्य बेहतरीन संस्थानों में ऐसे कोर्स व डिग्री प्रोग्राम शुरू करने की  सीटों में बढ़ोतरी करने की योजना है।

Post a Comment

0 Comments